Pages

"उई माँ उई मां ये क्या हो गया..."

लोक नृत्य की प्रस्तुति से महिलाओं ने दिया ऊर्जावान बनने का संदेश

उड़ान समर वेकेशन फेस्टिवल छठा दिन 

लखनऊ। सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था उड़ान के तत्वावधान में ऑनलाइन जूम एप पर चल रहे उड़ान समर वेकेशन फेस्टिवल के छठे दिन घरेलू महिलाओं ने लोक नृत्य के जरिए ऊर्जावान बनने का संदेश दिया। सरिता सिंह के संयोजन में चल रहे उड़ान समर वेकेशन फेस्टिवल में आज 25 से 45 आयु वर्ग की महिलाओं ने प्रस्तुतियां दी।

कार्यक्रम की शुरुआत सुमन पाण्डेय ने "छाप तिलक सब छीनी..." पर नृत्य कर ईश्वर से कोरोना से निजात दिलाने की प्रार्थना की। रचना वर्मा ने "उई माँ उई मां ये क्या हो गया..." पर खूबसूरत नृत्य की छटा बिखेरी। वहीं सविता कनौजिया ने "रिश्तों से बंधी एक डोर जो दिल तक जाती है..." पर खूबसूरत प्रस्तुति दी। नीतू ने गुजराती गाने पर नृत्य की प्रस्तुति दी। शिल्पी गुप्ता ने "आयो रे मेरा ढोलना...", बीनू यादव ने "घूमर घूमर घूमर..." पर नृत्य प्रस्तुत कर अन्य घरेलू महिलाओ को ऊर्जावान बनने का संदेश दिया।

Post a Comment

0 Comments