Pages

सीबीएसई 12वीं में आरएलबी के मेधावियों ने लहराया सफलता का परचम

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के कारण परीक्षा रद्द होने के बाद स्टूडेंट्स परिणाम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। वहीं सीबीएसई 12वीं के छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया। केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने शुक्रवार दोपहर 12वीं के नतीजे जारी कर दिए हैं। जिसमें रानी लक्ष्मीबाई मेमोरियल स्कूल के मेधावियों ने अपना दबदबा कायम रखा और सफलता का परचम लहराकर विद्यालय व राजधानी का मान देशभर में बढ़ाया है। 


परीक्षा में विद्यालय के 1614 स्टूडेंस शामिल हुए थे। जिसमें 186 मेधावियों ने 95% से अधिक और 480 मेधावियों ने 90% से अधिक अंक हासिल कर सफलता का परचम लहराया। "सी" ब्लॉक इंदिरानगर शाखा की छात्रा रिशिका कालरा व सेक्टर- "14" इंदिरानगर शाखा के छात्र अमन चंद्रा ने 98.4 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। वहीं "सी" ब्लॉक इंदिरानगर शाखा की छात्रा वैष्णवी सिंह, सेक्टर- "14" विकासनगर शाखा की छात्रा नैंसी सिंह, सर्वोदय नगर शाखा के छात्र मो. अलाउद्दीन निजामी, चिनहट शाखा की छात्रा विभा सिंह यादव ने 98.2 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं।

सभी मेधावियों ने सफलता का श्रेय अपने माता पिता व टीचर्स को देते हुए कहाकि यदि मन लगाकर नियमित पढ़ाई की जाए तो सफलता अवश्य मिलती है। उनका कहना है कि कोरोनाकाल के कारण भले ही वह परीक्षा से वंचित रह गए फिर भी उनकी मेहनत व लगन के चलते ही मूल्यांकन के आधार पर अच्छे अंक मिले है। विद्यालय के संस्थापक प्रबंधक जयपाल सिंह ने सभी मेधावियों को बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने बेहतर परीक्षा परिणाम को सभी टीचर्स व अभिभावक की कड़ी मेहनत का परिणाम बताया। उन्होंने कहाकि कोरोना संकट के चलते ऑनलाइन शिक्षण कार्य में टीचर्स के साथ ही स्टूडेंट्स व अभिभावक भी पूरी मेहनत कर रहे हैं। जिसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं। 

आईएएस व इंजीनियर बनना चाहते हैं मेधावी

अमन चंद्रा
98.4 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले आरएलबी सेक्टर- "14" ब्लॉक इंदिरानगर शाखा के छात्र अमन चंद्रा की तमन्ना सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनकर देश सेवा करने की है। अमन के पिता राजीव कुमार बिजनेस मैन है और माँ अनीता वर्मा गृहणी हैं। अमन कहते हैं कि उन्होंने परीक्षा की पूरी तैयारी की थी, यदि परीक्षा होती तो अधिक नंबर आते। हालांकि मूल्यांकन के आधार पर मिले अंक से वह पूरी तरह संतुष्ट है।

विभा सिंह यादव
98.2 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले आरएलबी चिनहट शाखा की छात्रा विभा सिंह यादव की तमन्ना सीए बनने की है। विभा के पिता अंगद सिंह किसान है और माँ मंजू यादव शिक्षामित्र हैं। मूल्यांकन के आधार पर मिले अंकों से संतुष्ट विभा कहती है कि यदि परीक्षा होती तो 99% अंक आते।

नैंसी सिंह
98.2 प्रतिशत अंक हासिल करने वाली आरएलबी सेक्टर-'14' विकास नगर शाखा की छात्रा नैंसी सिंह आईएएस अधिकारी बनकर देश की सेवा करना चाहती हैं। नैंसी के पिता नरेंद्र सिंह पुलिस विभाग में उपनिरीक्षक है और माँ कंचन सिंह गृहणी हैं। नैंसी कहती हैं कि 10th में उन्हें 98.8% अंक मिले थे और 12वीं में कम से कम 99% अंक की उम्मीद थी जिसके लिये उन्होंने परीक्षा की पूरी तैयारी भी की थी। हालांकि मूल्यांकन के आधार पर मिले अंक से वह पूरी तरह संतुष्ट है।

Post a Comment

0 Comments