Pages

बाल निकुंज : "तुम्हीं हो माता-पिता तुम्हीं हो..."

लखनऊ। "तुम्हीं हो माता-पिता तुम्हीं हो..." गीत के साथ जब स्टूडेंट्स ने अपने पैरेंट्स व ग्राण्ड पैरेंट्स की आरती उतारी तो सभी भावुक हो गए। वहीं पैरेंट्स व ग्राण्ड पैरेंट्स ने भी "तुझे सूरज कहूँ या चंदा..." गीत के बीच बच्चों को आशीर्वाद दिया। मौका था फादर्स डे की पूर्व संध्या पर बाल निकुंज इंग्लिश स्कूल पलटन छावनी व बाल निकुंज गर्ल्स एकेडमी बेलीगारद शाखा में आयोजित पैरेण्ट्स एवं ग्राण्ड पैरेण्ट्स सम्मान समारोह का। 

समारोह का शुभारम्भ प्रबंध निदेशक एच.एन. जायसवाल व ग्राण्ड पेरेंट्स ने माँ सरस्वती की पूजा अर्चना से की। इस मौके पर बच्चों ने मां सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत के साथ ही "सबसे प्यारा कौन है पापा मेरे पापा..." सहित अन्य गीतों पर मनमोहक प्रस्तुति से सभी को भावुक कर दिया।

जिसके पश्चात बच्चों ने पैरेंट्स व ग्राण्ड पैरेंट्स के चरण पखारे, टीका लगाया, माला पहनाया, आरती उतारी और उनका मुंह मीठा किया। भावुक होकर अभिभावकों ने भी बच्चों को मिठाई खिलाई और उनके सर पर हाथ रखकर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए आशीर्वाद दिया। कालेज के प्रबंध निदेशक एच.एन. जायसवाल ने सभी अभिभावकों को अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया। 

उन्होंने कहा कि ‘‘हमें अपने बच्चों में अच्छी शिक्षा के साथ-साथ पारिवारिक संस्कारों का संचार भी करते रहना होगा। माता-पिता पृथ्वी पर जीवन्त देवता हैं उनका सम्मान एक सभ्य समाज का निर्माण है।’’ समारोह में प्रधानाचार्य, उप प्रधानाचार्य, कोआडिर्नेटर के साथ सभी शिक्षक उपस्थित रहे।                                         

Post a Comment

0 Comments