Pages

मनुष्य जीवन के प्रथम 1000 दिन के महत्व विषय पर हुआ वेबिनार

लखनऊ। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत गृह विज्ञान विभाग एवं मिशन शक्ति के चतुर्थ चरण के तत्वावधान में बुधवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय अलीगंज में वेबिनार आयोजित किया गया। विश्व स्तनपान सप्ताह के अंतर्गत मनुष्य जीवन के प्रथम 1000 दिन के महत्व विषय पर आयोजित वेबिनार में बतौर मुख्य प्रवक्ता मौजूद डॉ. पूर्णिमा सिंह (काउंसलर, केजीएमयू) ने छात्राओं को विषय से संबंधित जानकारी दी गई। मंजरी श्रीवास्तव ने भी प्रेगनेंसी के 270 दिनों एवं मनुष्य जीवन के प्रथम 1000 दिनों में मां को दिए जाने वाले पोषण पुष्टाहार आदि विषय पर ज्ञानवर्धन किया। इस अवसर पर प्राचार्या प्रो. अनुराधा तिवारी ने विषय की यथार्थता को समझाते हुए बताया कि किस प्रकार इस समाज में स्तनपान को लेकर जो भ्रांतियां हैं वह मिथ्या है।

कार्यक्रम का संचालन गृह विज्ञान की प्रभारी डॉ. रश्मि विश्नोई ने किया एवं विषय से संबंधित तथ्यों का निवारण भी किया गया। गृह विज्ञान विषय की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. शिवानी श्रीवास्तव ने दोनों वक्ताओं का परिचय देते हुए विषय की गंभीरता को समझाया एवं विश्व स्तनपान सप्ताह में होने वाले 7 दिनों के कार्यक्रम की रूपरेखा भी प्रस्तुत की। कार्यक्रम के अंत में मिशन शक्ति प्रभारी लेफ्टिनेंट प्रतिमा शर्मा द्वारा प्रश्नोत्तरी सत्र संचालित किया। जिसमें आरती वर्मा, प्रिया दीक्षित इत्यादि छात्राओं द्वारा पूछे गए प्रश्न का वक्ताओं द्वारा समाधान किया गया एवं साथ ही धन्यवाद भी ज्ञापित किया। इस वेबिनार में डॉ. शरद वैश्य, डॉ. सपना जयसवाल, डॉ. क्रांति सिंह, डॉ. रश्मि अग्रवाल, रोशनी, डॉ. राहुल, डॉ. विनीता लाल, डॉ. मीनाक्षी, डॉ. पारुल सहित महाविद्यालय के अन्य प्रवक्ताओं एवं छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

Post a Comment

0 Comments