Pages

छात्रों से ज्यादा अभिभावकों की काउंसिलिंग करने की जरुरत

केंद्रीय विद्यालय संगठन लखनऊ संभाग के प्राचार्यों का तीन दिवसीय सम्मेलन शुरु

लखनऊ। केंद्रीय विद्यालय संगठन लखनऊ संभाग के प्राचार्यों के तीन दिवसीय सम्मेलन गुरुवार को कानपुर रोड स्थित एक होटल में शुरु हुआ। केंद्रीय विद्यालय संगठन के रिटायर्ड उपायुक्त वीके श्रीवास्तव मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। संगठन लखनऊ संभाग के उपायुक्त डीके द्विवेदी की अध्यक्षता में तीन दिनों तक यह कार्यक्रम चलेगा। केंद्रीय विद्यालय लखनऊ संभाग में 54 केंद्रीय विद्यालय हैं और सभी 54 प्राचार्य इसमें भाग ले रहे हैं। इस सम्मेलन में नई शिक्षा नीति 2020, अकादमिक एवं प्रशानिक मामलों पर विचार-विमर्श होगा। इस दौरान केंद्रीय विद्यालयों को और बेहतर कैसे बनाया जाए इस पर भी गहनता से विचार किया जाएगा।

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन एवं माँ सरस्वती की वंदना से हुआ। मुख्य अतिथि ने अपने वक्तव्य में कहा कि विद्यार्थियों से ज्यादा उनके अभिभावकों की काउंसिलिंग करने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों के विषय चुनने के लिए अभिभावकों को सजग रहना चाहिए कि उनके बच्चों के ऊपर कोई दबाव न पड़े। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को ज्ञान अर्जित करने की शिक्षा दी जाए। उन्हें अंको की प्रतिस्पर्धा से बचाया जाना चाहिए। सहायक आयुक्त प्रीति सक्सेना ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। कुमुद चतुवेर्दी, टीजीटी अंग्रेजी, केवि अलीगंज ने मंच संचालन किया। केंद्रीय विद्यालय आरडीएसओ के प्राचार्य संजय कुमार ने बताया कि यह आयोजन 17 सितंबर को समाप्त होगा।

Post a Comment

0 Comments