Pages

पूर्वोत्तर रेलवे के अस्पतालों में टेलीकंसल्टेशन ऐप और अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) उपलब्ध होगी

इस महामारी के समय में, निर्बाध सेवा उपलब्ध कराने के लिए डिजीटल स्वास्थ्य सेवा समय की आवश्यकता है। रेलटेल, रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार तीव्रतर और बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए पूरे अस्पताल प्रबंधन को एक ही आर्किटेक्चर पर लाने के लिए अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) क्रियान्वित कर रही है। अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) एक एकीकृत नैदानिक ​​सूचना प्रणाली है जिसे बेहतर अस्पताल प्रशासन और रोगी स्वास्थ्य देखभाल के लिए पूरे भारत में 125 रेलवे स्वास्थ्य सुविधाओं और 650 पॉलीक्लिनिक में क्रियन्वित किया जाना है। यह प्रणाली पूर्वोत्तर रेलवे (NER) की सीतापुर स्वास्थ्य इकाई में पहले ही शुरू की जा चुकी है और पूर्वोत्तर रेलवे के अन्य रेलवे अस्पतालों में अगले 60 दिनों के भीतर यह सुविधा होगी। अप्रैल, 2021 माह में सीतापुर स्वास्थ्य इकाई में अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS) के माध्यम से 490 से अधिक प्रिस्क्रिप्शन एवं 400 ओपीडी पर्चियां तैयार की गई हैं। अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS) के माध्यम से, सभी चिकित्सा डेटा को डिजिटल किया जाएगा और यह रेलवे स्वास्थ्य सेवा लाभार्थियों की यूनीक चिकित्सा आईडी (UMID) के माध्यम से उन्हें सुलभ होगा। अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS) रोगी मोबाइल ऐप, ओपीडी पंजीकरण, डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन, लैब रिपोर्ट आदि से संबंधित सभी सूचनाओं का एक्सेस मरीजों को उपलब्ध कराएगा। 

अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS) में एकीकृत टेलीकंसल्टेशन ऐप के माध्यम से रोगी बिना अस्पताल में जाए भी परामर्श ले सकेंगे। वर्तमान में चल रही महामारी के दौरान, यह लोगों को सामान्य बीमारियों के लिए अस्पताल जाने से बचने में मदद करेगा। अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS) समाधान लगभग 20 मॉड्यूल के साथ अस्पताल प्रशासन के पूरे समूह ​​​​को कॅवर करने जा रहा है जो रेलवे अस्पतालों के लिए प्रासंगिक हैं। इनमें क्लिनिकल, प्रशासनिक, रोगी सेवाएं और सहायक मॉड्यूल जैसे ओपीडी, आईपीडी, लैब्स, फार्मेसी, रेफरल्स, चिकित्सा परीक्षा, बीमारी-स्वस्थता प्रमाणन, चिकित्सा दावों की प्रतिपूर्ति आदि शामिल हैं। 

पूर्वोत्तर रेलवे के अलावा, उत्तर रेलवे के सेंट्रल और मंडल अस्पताल, दिल्ली क्षेत्र की 13 स्वास्थ्य इकाइयों और दक्षिण मध्य रेलवे के 5 अस्पतालों में अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली (HIMS), क्रियान्वित की जा चुकी है और अन्य अस्पतालों में काम चल रहा है और यह कार्य वित्त वर्ष 21-22 में पूरा हो जाएगा।



रेलटेल "मिनी रत्न (श्रेणी- I)" सेंट्रल पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज, देश में सबसे बड़े तटस्थ दूरसंचार अवसंरचना प्रदाताओं में से एक है, जो देश के कई कस्बों एवं शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों को कॅवर करने वाले पैन-इंडिया ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क की स्वामी है। ऑप्टिक फाइबर के 59098 मार्गकिलोमीटर के एक मजबूत नेटवर्क के साथ-साथ, रेलटेल के पास दो इलैक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रोद्यौगिकी मंत्रालय एम्पैनिल्ड टियर III डेटा सेंटर भी हैं। अपने पैन इंडिया उच्च क्षमता वाले नेटवर्क के साथ, रेलटेल विभिन्न मोर्चों पर एक नॉलेज़ सोसाइटी बनाने की दिशा में कार्य कर रही है और इसे दूरसंचार क्षेत्र में भारत सरकार की विभिन्न मिशन-मोड परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए चुना गया है । रेलटेल, एमपीएलएस-वीपीएन, टेलीप्रेजेंस, लीज्ड लाइन, टॉवर को-लोकेशन, डेटा सेंटर सर्विसेज आदि जैसी सेवाओं का एक समूह प्रदान करती है । रेलटेल भारतीय रेलवे के साथ देश भर के रेलवे स्टेशनों पर पब्लिक वाई-फाई उपलब्ध कराकर रेलवे स्टेशनों को डिजिटल हब में बदलने के लिए भी कार्य कर रही है और कुल 6000 से अधिक स्टेशन रेलटेल के रेलवॉयर वाई-फाई से सज्जित हैं। 

Post a Comment

0 Comments