Pages

बिजली अभियंताओं ने फिर दी आंदोलन की चेतावनी, आखिर क्यों

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत परिषद अभियंता संघ, लेसा सिस गोमती एवं ट्रांसगोमती क्षेत्र की बैठक गुरुवार को फील्ड होस्टेल हुई। जिसमें विभिन्न ज्वलन्त समस्याओं पर सार्थक विचार विमर्श किया गया। प्रबंधन द्वारा अव्यवहारिक लक्ष्य, दूषित कार्य संस्कृति, work - life संतुलन का पूर्ण अभाव, उपकेंद्रों पर संसाधनों एवं कार्मिकों का अभाव, उचित इंफ़्रा का अभाव इत्यादि के विरोध मे अभियंताओ में रोष व्याप्त है। जिसके सार्थक निराकरण हेतु प्रबंधन से अपील की गई। 

बैठक में सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक वीसी, बैठकें कर अभियंताओं को उलझाए रखने, धरातल पर कार्य करने हेतु समय ना देने, अभियंताओं को संसाधन और सुविधा मुहैया ना कराने, अवकाश के दिन लगातार कार्य करना, भय का वातावरण देकर अभियंताओं को हतोत्साहित करने एवं सदस्यों के अन्य ज्वलंत मुद्दों पर भी चर्चा की गई। 

बैठक में मौजूद लेसा क्षेत्र के सभी अभियंताओं से विस्तृत विचार विमर्श कर ज्वलंत समस्याओं के संबंध में प्रबंधन से सार्थक कदम उठाकर निवारण करने की अपील की गई। विद्युत अभियंता संघ के क्षेत्रीय सचिव लेसा सिस गोमती आशीष कुमार, क्षेत्रीय सचिव लेसा ट्रांस गोमती शिवम् त्रिपाठी ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया है कि यदि ऊर्जा निगमों में स्वस्थ कार्य का वातावरण एवं धरातल पर कार्य करने हेतु समय व संसाधन न दिए गए एवं अभियंताओं की ज्वलंत समस्याओं का निस्तारण नहीं किया गया तो शीघ्र ही सभी अभियंता प्रबंधन के विरुद्ध आंदोलन हेतु बाध्य होंगे।

Post a Comment

0 Comments