Pages

भारत हस्तशिल्प महोत्सव : दिव्यांगों की धमाकेदार प्रस्तुति के नाम रही चौथी शाम

लखनऊ। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट के तत्वावधान में कांशीराम स्मृति उपवन आशियाना में चल रहे भारत हस्तशिल्प महोत्सव 2022 की चौथी सांस्कृतिक संध्या में आज दिव्यांगों के गीत संग कथक भरतनाट्यम नृत्य ने समां बांधा। कार्यक्रम का उदघाटन बतौर मुख्य अतिथि मौजूद स्कंद कुमार श्रीवास्तव (पूर्व प्रदेश महामंत्री पंचायत प्रकोष्ठ भाजपा), गणेश चौहान (संत कबीर नगर विधायक धनघटा), दिनेश सहगल (उपनिदेशक सूचना विभाग),  विनोद कुमार सिंह (अध्यक्ष प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट), विजयानंद गुरु (काशी विश्वनाथ) और नरेंद्र बहादुर सिंह ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस अवसर पर प्रियापाल, पवन कुमार पाल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

डॉ. अनीता सहगल वसुंधरा के मंच संचालन में भारत  हस्तशिल्प महोत्सव की चौथी सांस्कृतिक सन्ध्या का आरम्भ स्नेहीशील उत्थान समिति द्वारा शाश्वत प्रवीण श्रीवास्तव और श्रद्धा श्रीवास्तव के निर्देशन में दिव्यांग बच्चों के स्वागत गीत से हुआ। विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर स्पर्श राजकीय दृष्टि बाधित बालिका इंटर कॉलेज मोहान रोड के दिव्यांग बच्चों इंदु चौरसिया, महक मिश्रा, रोशनी दुबे, आकांक्षा, सुहानी, सुनैना, लक्ष्मी ने प्रदीप कुमार गंगवार, रागिनी दीक्षित और वर्षा सिंह के निर्देशन में अपने गीतों और नृत्य से दर्शकों को मंत्र मुग्ध कर दिया।

मन को मोह लेने वाली इस प्रस्तुति के पश्चात ऋचा तिवारी और अनुराधा ने कथक नृत्य की मनोरम छटा बिखेरी। वैष्णवी वर्मा, परी वर्मा, परिणीति राजपूत, तान्या सक्सेना, अनुमेहा सक्सेना, खुशबू और कुसमा ने नेहा वर्मा के नृत्य निर्देशन में दक्षिण भारतीय शास्त्रीय नृत्य भरतनाट्यम की सुखद प्रस्तुति दी।

वारसी ब्रदर्स जहीर अब्बास, रहमानी वारिस ने अपनी खनकती हुई आवाज में दमा दम मस्त कलंदर, मेरे रश्के कमर, दिल गलती कर बैठा सहित अन्य दिलकश कव्वालियों को सुनाकर श्रोताओं की असंख्य तालियां बटोरीं। इस अवसर पर डॉ. अंजना कुमार के संयोजन में आयोजित कवि सम्मेलन में दीपिका चतुर्वेदी, गौरव विवेक, प्रीती त्रिपाठी, मन्जुल मयंक, सुबोध सुलभ, हाकिम सिंह और शरद लंकेश ने अपनी अपनी कविताओं से काव्यप्रेमी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया।कार्यक्रम का संयोजन सम्पूर्ण शुक्ला और अरविन्द सक्सेना ने किया।

Post a Comment

0 Comments