Pages

दो दिवसीय अटल स्वास्थ्य मेले का आगाज, उमड़ी भीड़

पहले दिन लगभग 8500 लोगों ने स्वास्थ्य सेवाओं का लिया लाभ 

लखनऊ। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी बाजपेई की जयंती के अवसर पर युवा भाजपा नेता नीरज सिंह द्वारा विकास नगर स्थित मिनी स्टेडियम में आयोजित दो दिवसीय अटल स्वास्थ्य मेले का उद्घाटन शनिवार को उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक ने किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अटल स्वास्थ्य मेले में लोगों को जांच एवं इलाज मुहैया कराया जा रहा है। यह तीसरा अटल स्वास्थ्य मेला है। पहले स्वास्थ्य मेले में लगभग 7500 लोगों तथा दूसरे स्वास्थ्य मेले में लगभग 10,500 से अधिक लोगों ने स्वास्थ्य मेले का लाभ उठाया था। उन्होंने कहा कि 50 साल की आयु पूरी कर चुके लोग स्वास्थ्य मेले में स्वास्थ्य जांच जरूर कराएं। हमारी दिनचर्या बहुत व्यस्त है, हम अन्य सभी कामों को तो तरजीह देते हैं लेकिन अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देते हैं जबकि स्वास्थ्य की देखभाल सर्वोपरी है। इसके साथ ही उन्होंने सभी का आह्वाहन किया कि नियमित 45 मिनट का व्यायाम जरूर करें, धूम्रपान न करें, देर रात तक न जगें, सुबह जल्दी उठें और स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं। 
इस अवसर पर नीरज सिंह ने कहाकि स्वास्थ्य मेले के आयोजन का उद्देश्य गरीब एवं असहाय लोगों को एक छत के नीचे स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना है। इस मेले के माध्यम से सरकारी के साथ साथ निजी अस्पताल भी सहयोग कर रहे हैं। जहां लोगों की जांच की जा रही है वहीँ उन्हें रेफ़र भी किया जा रहा है। इस अवसर फाइलेरिया रोगी नेटवर्क सपोर्ट ग्रुप के सदस्य मालती सिंह, बिट्टो देवी एवं गंगा प्रसाद द्वारा मेले में आए लोगों को फाइलेरिया रोग के लक्षण, बचाव एवं उपचार के बारे में बताया गया और फरवरी में होने वाले आईडीए अभियान के तहत फाइलेरिया से बचाव की दवा का सेवन करने की अपील की। इसके साथ ही नारायण सेवा संस्थान द्वारा दिव्यांगजन  को कृत्रिम अंगों, ट्रायसाइकिल और एल्प्स हियरिंग एड्स द्वारा हियरिंग एड का वितरण किया गया।

इस अवसर पर स्वयं सेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफार) के तत्वावधान में आकार फाउंडेशन के कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को  फाइलेरिया रोग के बारे में जागरूक किया। अटल स्वास्थ्य मेले में पहले दिन लगभग 8,500 मरीजों ने स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लिया। इस मौके पर कोविड टीकाकरण, बच्चों का नियमित टीकाकरण, परिवार नियोजन संबंधी सलाह के साथ साधनों का वितरण किया गया। इसके अलावा आयुष्मान कार्ड का वितरण किया गया और रक्तदान शिविर भी लगाया गया।
इस मौके पर प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, आयुष्मान भारत योजना, राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम, राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम, दिव्यांगजन कल्याण विभाग, जिला यूनानी विभाग, किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के ब्लड बैंक विभाग, जिला होम्योपैथिक विभाग, आयुर्वेदिक कॉलेज, जिला आयुर्वेद विभाग और योग एवम हेल्थ वेलनेस सेंटर ने भी अपने स्टाल्स लगाए। मेले में कुल 62 स्टाल लगे। 
इस अवसर पर मेदांता अस्पताल, मिडलेंड अस्पताल, अपोलोमेडिक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, मेयो मेडिकल सेंटर, एराज मेडिकल कॉलेज, डा. ओ.पी. चौधरी अस्पताल, सहारा अस्पताल, रीजेंसी अस्पताल, जगरानी अस्पताल, चरक हॉस्पिटल, सरस्वती डेंटल कॉलेज, हरमैन अस्पताल, आस्था ओल्ड एज अस्पताल, आइकन अस्पताल, ग्रोवर डेंटल कॉलेज, इप्सम डायग्नोस्टिक सेंटर, वागा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, सेंट मेरी अस्पताल, सीएनएस अस्पताल, अजंता अस्पताल, नीरा अस्पताल,  हेल्थ सिटी अस्पताल, प्रिसीजन अस्पताल, शेखर अस्पताल, चंदन अस्पताल, इंटीग्रल अस्पताल, टी.एस. मिश्रा मेडिकल कॉलेज, टीसीआई सेंटर, खन्ना डायग्नोस्टिक सेंटर, मेडॉक्स अस्पताल, अवध अस्पताल, नोवा अस्पताल, तारा संस्थान, एडवांस क्योर फिजियो थेरेपी एंड रिहैबिलिटेशन और सेंटर उज्ज्वल सेवा संस्थान ने स्टाल लगाए।
इस अवसर पर महापौर संयुक्ता भाटिया, पूर्व नगर विकास मंत्री एवं विधायक आशुतोष टंडन, विधायक मुकेश शर्मा, अवनीश सिंह, रामचन्द्र प्रधान, पवन सिंह चौहान, योगेश शुक्ला, महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं डा. लिली सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मनोज अग्रवाल, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. बिमल बैसवार, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एम.के. सिंह, डा. ए.पी. सिंह, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप सिंह, डा. के.डी. मिश्रा, जिला मलेरिया अधिकारी डा. रितु श्रीवास्तव, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी योगेश रघुवंशी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक सतीश यादव, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के जिला समन्वयक सुधीर वर्मा, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments