Pages

97वें जन्मदिवस पर अटल जी को अर्पित किए श्रद्धासुमन

अटल जी का लखनऊ से रहा है अटूट रिश्ता- अमित पुरी

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता, पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारतरत्न से सम्मानित दिवंगत अटल बिहारी बाजपेई के 97वें जन्म दिवस पर भाजपा नेता अमित पुरी के द्वारा कपूरथला प्रगति बाजार में अटल जी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित करने के तत्पश्चात् बिल्कुल, समोसा वितरण करके चाय पर चर्चा की गई। 

कार्यक्रम आयोजक अमित पुरी ने कहा कि अटल जी लखनऊ से कई बार सांसद रहे और प्रधानमंत्री के रूप में चुने गये। अटल जी का लखनऊ से अटूट रिश्ता रहा है कई मौकों पर उन्होंने इस रिश्ते को सार्वजनिक तौर पर स्वीकारा भी। राजधानी की जनसभाओं में अटल जी कहा करते थे कि लखनऊ हम पर फिदा हम फिदा-ए-लखनऊ, आसमां की क्या है ताकत जो छुड़ाए लखनऊ। 

भाजपा के पूर्व मीडिया प्रभारी अवधेश गुप्ता छोटू ने कहाकि विश्व पटल पर भारत का मान बढ़ाने वाले अटल बिहारी बाजपेई ने कभी किसी को छोटा नहीं समझा इसका उल्लेख अपनी कविताओं के माध्यम से भी किया। उन्होंने कहा था कि छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता और टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता। पार्टी की हार पर कभी उन्होंने कार्यकर्ताओं को निराश नहीं होने दिया और उन्होंने फिर लिखा क्‍या हार में क्‍या जीत में किंचित नहीं भयभीत में संघर्ष पथ पर जो मिला यह भी सही वह भी सही।

कार्यक्रम में अमित पुरी, अवधेश गुप्ता छोटू, सुदर्शन कटियार, बीपी अवस्थी, अनुराग मिश्रा अन्नु, रमेश तूफानी, राजीव वर्मा, मोहित रावत, रोहित सैनी, अनूप बाजपेई, कमलेश्वर सिंह, अनुराग सोनकर, केके जायसवाल, सुधाकर त्रिपाठी, सन्तोष सक्सेना आदि कार्यकर्ताओं ने अटल जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

Post a Comment

0 Comments