Pages

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद हसन का निधन

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधान परिषद में नेता विरोधी दल अहमद हसन अंसारी का शनिवार को उपचार के दौरान निधन हो गया। अहम हसन का इलाज लोहिया संस्थान में चल रहा था, जहां उन्होंने आज उपचार के दौरान अंतिम सांस ली, अहम हसन 88 साल के थे। वे काफी दिनों से बीमार चल रहे थे।


अहमद हसन अखिलेश की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने IPS से रिटायरमेंट के बाद राजनीति में कदम रखा था। 

डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्वेदिक संस्थान की क्रिटिकल केयर यूनिट वह भर्ती थे। यहां डॉ. दीपक मालवीय और अन्य डॉक्टरों की देख-रेख में उनका इलाज चल रहा था। डॉक्टर मालवीय ने बताया, अहमद हसन को फैक्चर होने पर भर्ती कराया गया था। बीते 7 दिन पहले उनको यहां लाया गया था।

इलाज के दौरान उनकी तबीयत तेजी से बिगड़ती गई, जिससे उन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट में शिफ्ट किया गया। डायलिसिस भी शुक्रवार को कराई गई थी। संस्थान के चिकित्सा अधीक्षक डॉ विक्रम सिंह ने बताया, 7 दिन पहले हसन को भर्ती कराया गया था। 

'उत्तर प्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने वरिष्ठ सदस्य एवं विधान परिषद के नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन के निधन का संदेश जानकर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि श्री अहमद हसन आईपीएस से सेवानिवृत्त के उपरांत उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहे तत्कालीन सरकार में हमारे साथी रहे श्री हसन कैबिनेट मंत्री के रूप में अपनी सरलता सहजता एवं वाकपटुता से सभी लोगों के प्रिय रहे हैं। श्री चौधरी ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा के चिर शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।'

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधान परिषद में नेता विरोधी दल अहमद हसन अंसारी 5 बार एमएलसी रह चुके हैं। सपा की सरकार में वह स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्री का भी पद संभाल चुके हैं।


Post a Comment

0 Comments