Pages

छात्राओं में शोधपरक दृष्टिकोण विकसित करने पर दिया जोर

लखनऊ। नेताजी सुभाष चंद्र बोस राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय अलीगंज के संस्थागत नवाचार प्रकोष्ठ (आईआईसी) के अंतर्गत "मिनिस्ट्री ऑफ एजुकेशन इनोवेशन द्वारा स्वीकृत और प्रायोजित इंपैक्ट लेक्चर सेशन-2022" का शुक्रवार को समापन हो गया। प्रो. अनुराधा तिवारी (प्राचार्या एवं संरक्षक) के कुशल निर्देशन में हुए इस कार्यक्रम की समन्वयक डॉ. पूनम वर्मा ने प्रभाव व्याख्यान के दोनो सत्रों का सफलता से संचालन किया।

इंपैक्ट लेक्चर सेशन का प्रथम सत्र 15 जुलाई को आयोजित हुआ था, जिसमें विषय विशेषज्ञ के तौर पर डॉ. नितिन कुमार सिंह (डायरेक्टर रॉयल हनी एंड बी कीपिंग सोसायटी) एवं डॉ. दिव्या राजपूत (सीईओ, जेएसएस अकैडमी, नोएडा) मौजूद रहे। उन्होंने छात्राओं एवं अध्यापकों को स्टार्टअप और नवाचार विषय से जुड़े हुए बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी दी और छात्राओं की समस्याओं का समाधान करते हुए भविष्य में नवाचार को अपनाने के लिए प्रेरित किया।

शुक्रवार को हुए द्वितीय सत्र में बतौर विषय विशेषज्ञ प्रो. दिनेश चंद्र शर्मा (अध्यक्ष, आईआईसी एवम शिक्षक सम्मान पुरस्कृत, केएम राजकीय महाविद्यालय, बादलपुर) एवं डॉ. रश्मि सिंह (प्रेसिडेंट आईआईसी और इनोवेशन एंबेसडर, केएन राजकीय महाविद्यालय, ज्ञानपुर) ने वक्तव्य दिया, जो बौद्धिक संपदा अधिकारों पर आधारित था। डॉ. दिनेश चंद्र शर्मा ने एनीपी के मद्देनजर इनोवेशन और आईपीआर के बारे में पूर्ण जानकारी देते हुए छात्राओं में शोधपरक दृष्टिकोण विकसित करने पर बल दिया। डॉ. रश्मि सिंह ने बौद्धिक संपदा अधिकारों के प्रकारों और इसकी प्रक्रिया के बारे में विस्तार से प्रतिभागियों को बताया। दोनो व्याख्यान ऑनलाइन माध्यम से संपन्न कराए गए। जिसमे लगभग 800 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया।

प्राचार्या प्रो. अनुराधा तिवारी ने बताया कि गैर तकनीकी संस्थानों के अंतर्गत मात्र दो राजकीय महाविद्यालयों को यह अनुदान स्वीकृत हुआ है, जिसमें से एक नेताजी सुभाष चंद्र बोस महाविद्यालय है। महाविद्यालय में आईआईसी का यह पहला सत्र है, जिसमे यह बहुत सराहनीय प्रदर्शन कर रहा है। डॉ. विनीता लाल, डॉ. ज्योति, डॉ. श्वेता, डॉ. रश्मि, डॉ. क्रांति, डॉ. पारुल, डॉ. राहुल एवम डॉ. अरविंद ने कार्यक्रम के सफल संचालन में सहयोग प्रदान किया। डॉ. जय प्रकाश, डॉ. शरद, डा. शिवानी, डॉ. रश्मि बिश्नोई ने बड़े ही सार्थक प्रश्न किए। इस मौके पर समस्त महाविद्यालय परिवार उपस्थित रहा।

Post a Comment

0 Comments