Pages

यूपी मेट्रो को 9वें आईजीबीसी ग्रीन चैंपियन पुरस्कार से किया गया सम्मानित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड को सर्वसम्मति से “मेट्रो रेल ऑथिरिटी लीडिंग द ग्रीन MRTS मूवमेंट इन इंडिया” श्रेणी में 9वें आईजीबीसी ग्रीन चैंपियन पुरस्कार से सम्मानित किया गया। आईजीबीसी ने हैदराबाद शहर के इंटरनैशनल कनवेंशन सेंटर में 20 से 22 अक्टूबर तक तीन दिवसीय पुरस्कार वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया है।आईजीबीसी ने “ग्रीन मास रैपिड ट्रांजिट सिस्टम” के तहत यूपी मेट्रो को आगरा, कानपुर एवं लखनऊ में निर्मित होने वाले ग्रीन मेट्रो स्टेशनों के संपोषणीय निर्माण हेतु पुरस्कार से सम्मानित किया। यूपीएमआरसी ने लखनऊ, कानपुर एवं निर्माणधीन आगरा के मेट्रो स्टेशनों के निर्माण में कई हरित डिज़ाइन का उपयोग किया है। 

वर्तमान समय में देश भर में दो हजार से अधिक हरित निर्माण परियोजनाएं चल रही हैं, जबकि कुछ परियोजनाएं ऐसी भी हैं जो कि संचालन वाले चरण में है। विश्व भर में जितने भी देश हरित निर्माण क्षेत्र में काम कर रहे हैं उनमें भारत सबसे ऊपर है। इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (आईजीबीसी) ने ऐसी ही हरित निर्माण परियोजना को सम्मानित करने के लिए कार्यक्रम की शुरूआत की। इसके साथ ही आईजीबीसी ने इस क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाली परियोजनाओं का आईजीबीसी के कार्यक्रम ग्रीन बिल्डिंग में सम्मानित भी किया। 

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक सुशील कुमार ने कहा, "हम अपने टिकाऊ और हरित निर्माण प्रथाओं के लिए यह पुरस्कार प्राप्त करके सम्मानित महसूस कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने परियोजना चरण में पानी के छिड़काव, धूल शमन, पहिया धोने, पेड़-अनुवाद आदि जैसे उपायों से लेकर 100% एलईडी के उपयोग, पुनर्योजी ब्रेकिंग, परिवेश प्रकाश व्यवस्था, सौर ऊर्जा आदि के उपयोग कर हरित पहल में सराहनीय कार्य किया है। यूपीएमआरसी लखनऊ और कानपुर के लोगों को एक विश्व स्तरीय मास रैपिड पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम प्रदान कर रहा है जो पर्यावरण के अनुकूल, सुरक्षित और विश्वसनीय है। मैं यूपीएमआरसी की पूरी टीम को इस पुरस्कार के लिए बधाई देता हूं। आप सभी को सुरक्षित और समृद्ध दिवाली की शुभकामनाएं।

Post a Comment

0 Comments