Pages

बैंक ऑफ बड़ौदा : पीवी सिंधु ने इंस्टा लाइव एएमए सीजन में प्रशंसकों से की बातचीत

लखनऊ। बैंक ऑफ बड़ौदा ने 2 बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु और जानी-मानी स्पोर्ट्स कमेंटेटर मंदिरा बेदी के साथ एएमए सीजन #SmashItWithSindhu2 का आयोजन करते हुए राष्ट्रीय खेल दिवस को सेलीब्रेट किया। सिंधु (शटलर) के 65,000 से अधिक प्रशंसक इस सीजन को देख चुके है। प्रशंसकों ने सिंधु की जर्नी के विभिन्न पहलुओं को लेकर उनसे सवाल पूछे। बैंक ऑफ बड़ौदा, लगभग 5 वर्षों से इस एथलीट के साथ जुड़ा हुआ है, एक ऐसा रिश्ता, जो उनके रियो ओलंपिक में जीतने से पहले ही शुरू हो गया था। 

अपना दूसरा ओलंपिक पदक जीतने पर सिंधु ने कहा, "ओलंपिक में बैक-टू-बैक पदक जीतना निश्चित रूप से सपने के सच होने जैसा है।" सिंधु ने इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत साल दर साल खेलों में काफी बेहतर कर रहा है और भविष्य बहुत आशाजनक दिख रहा है। मंदिरा बेदी के साथ रैपिड-फायर कन्वर्सेशन में सिंधु ने कोर्ट पर आक्रामक रहने के विपरीत अपने व्यक्तित्व को बहुत ही खुश़मिजाज और संवेदनशील बताया। पीवी सिंधु पर फिल्म बनाने को लेकर पूछे जाने पर, उन्होंने दीपिका पादुकोण को अपना किरदार निभाने के लिए सबसे फिट बताया क्योंकि दीपिका एक बैडमिंटन खिलाड़ी भी हैं।

एक प्रशंसक ने सिंधु से पूछा कि जब वह ट्रेनिंग नहीं ले रही होती हैं तो उन्हें क्या करना पसंद है, इस पर उन्होंने जवाब दिया कि उन्हें सजना-संवरना पसंद है और एक सच्चे मिलेनियल की तरह वह बॉब वर्ल्ड के सुविधाजनक और आकर्षक ऑफर्स का बड़े पैमाने पर उपयोग करती हैं। स्ट्रेस बस्टर के तौर पर, सिंधु को यात्रा करना पसंद है और बॉब वर्ल्ड सर्विसेस के साथ वह खुद से अपनी छुट्टियां प्लान करती हैं।सिंधु सोशल मीडिया पर ज्यादा समय नहीं बिताती हैं। अपने फॉलोअर्स की संख्या का अनुमान लगाने को लेकर वह, मंदिरा से एक शर्त भी हार गईं। स्पोर्ट्समैन स्पिरिट के तहत ओलंपियन, बैंक ऑफ बड़ौदा के हाल ही में लॉन्च किए गए ऐप - बॉब वर्ल्ड के माध्यम से बेट अमाउंट को ट्रांजैक्ट करने पर सहमत हो गईं। सेव, इन्वेस्ट, बॉरो और शॉप जैसी अपनी सभी बैंकिंग जरूरतों के लिए उन्होंने बॉब वर्ल्ड को सुपर-फास्ट और सही भागीदार बताया। सिंधु ने छोटे बच्चों को खेलों को लेकर प्रोत्साहित करने के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहाकि पैरेंट्स को अपने बच्चों को खेल के प्रति उनके जुनून को गंभीरता से लेने के लिए सपोर्ट और प्रेरित करना चाहिए।

Post a Comment

0 Comments