Pages

किसानों ने किला चौराहे पर की महापंचायत, 26-27 अक्टूबर को फिर

लखनऊ। किसान संयुक्त मोर्चा उतर प्रदेश के आह्वान पर लखनऊ में किला चौराहा बंगला बाजार पर किसान महापंचायत का आयोजन किया गया। एलडीए कॉलोनी आशियाना क्षेत्र के किला चौराहे पर भारतीय किसान यूनियन अरा लोकतांत्रिक संगठन के बैनर तले शुक्रवार को किसानों ने महापंचायत की। इस दौरान सैकड़ों किसानों ने जय जवान जय किसान का नारा लगाया। अतुल अंनजान "पुरुषोतम शर्मा", आतम जीत सिंह, राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश सिंह चौहान भाकियू श्रमिक जनशक्ती प्रदेश अध्यक्ष कमलेश यादव, अपनी टीम के साथ सम्मलित हुए। पुरषोतम शर्मा युवा मंडल अध्यक्ष अभिषेक सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रशांत मिश्रा, हरदोई जिला अध्यक्ष बिक्रम प्रताप सिंह, जिला अध्यक्ष सीतापुर अमर सिंह, जिला सचिव बाराबंकी मोहम्मद कलीम सहित हजारो की भीड़ में इकठ्ठा हुई और उत्तर प्रदेश संयुक्त मोर्चा ने आवाहन किया आने 5 तारीख मुजफ्फरनगर से उत्तर प्रदेश फतेह का मिशन शुरू होगा, किसानो ने 25 सितंबर को पुरे तरह से भारत बंद का आवाह्न किया। 26-27 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत की जाएगी। 

जमीन लेकर एलडीए पर मुआवजा न देने का आरोप 

महापंचायत का नेतृत्व कर रहे संगठन प्रदेश अध्यक्ष अमर सिंह लोधी ने कहा कि एलडीए ने शहरी विकास के लिए किसानों की भूमि तो ले ली, लेकिन उचित मुआवजा अब तक नहीं दिया। इससे किसान दो जून की रोटी को तरस रहा हैं। किसानों की समस्याओं से सरकार को सरोकार नहीं। झील, तालाब, शमशान तक भूमाफिया निरन्तर कब्जा कर रहे हैं। कई शिकायतों के बावजूद प्रशासन नींद से नहीं जाग रहा है। जल्द ही समस्याएं दूर नहीं हुई तो किसान एकजुट होकर महाआंदोलन करेंगे।

किला चौराहे पर शुक्रवार आयोजित भारतीय किसान यूनियन अरा लोकतांत्रिक बैनर तले किसानों की समस्याओं को लेकर आयोजित महापंचायत में राजधानी और आसपास के जिलों से सैकड़ों किसान जुटे। मगर कोरोना काल के बावजूद कोविड 19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया। अधिकांश लोगों के चेहरे पर मास्क नहीं था, यहां सेनेटाइजर की व्यवस्था भी नहीं थी। काफी देर तक चले किसानों के प्रदर्शन को समाप्त करने के लिए मौके पर एलडीए के अपर सचिव ज्ञानेंद्र वर्मा पहुंचे। 

भाकियू ने घेरा आवास विकास का वृंदावन कार्यालय 

तेलीबाग स्थित आवास विकास परिषद वृन्दावन योजना कार्यालय के सामने आज हजारों किसानों ने हरिहरपुर में खेतीहर जमीनों पर बुलडोजर चलाए जाने और वन भूमि में मौजूद विशालकाय हरे वृक्षों को काटे जाने के विरोध में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान हजारों की संख्या में पहुंचे किसानों ने कार्यालय के सामने स्थित पूरी सड़क जाम कर दी तथा गेट पर ताला लगा दिया। इससे जो अंदर था व अंदर ही रह गया वहीं बाहर वालों को किसानों ने अंदर नहीं जाने दिया। कई घण्टे तक परिषद कार्यालय का कार्य बाधित रहा। अपना कार्य कराने के लिए कार्यालय पहुंचे आवंटी कार्यालय में ही बंधक बने रहे। इस दौरान किसानों ने जमकर परिषद प्रशासन विरोधी नारेबाजी कर जमकर हंगामा किया। किसान नेता राजू गुप्ता ने बताया कि संपूर्ण मामले में पूर्व बसपा जिलाध्यक्ष की इस प्रकरण में बड़ी भूमिका है। किसानों के अनुसार हरिहरपुर के निकट स्थित फें्रड्स कॉलोनी के मालिक को लाभ पहुंचाने के लिए हरिहरपुर ग्राम समाज की जमीन और निकट स्थित सरकारी वन भूमि को प्रधानमंत्री आवास के नाम पर कब्जा किए जाने का आरोप लगाया। इस कार्रवाई को न रोके जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। देर शाम तक चले हंगामे के पश्चात परिषद अधिकारियो के समझाने पर किसानों ने अपना प्रदर्शन समाप्त किया।

Post a Comment

0 Comments