Pages

कोरोना 80 : लखनऊ के इन इलाकों में मिले सबसे ज्यादा संक्रमित, 11 कर्मचारी मिलने से हड़कंप

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। नये साल के जश्न ने इसमें और इजाफा किया है। पहले दिन की भीड़ ने संक्रमण को हवा दी है। रविवार को इस साल सबसे अधिक 80 नये संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। इनमें चार बच्चे व 29 महिलाएं भी शामिल हैं। इतनी बड़ी संख्या में मेदांता अस्पताल के 11 कर्मचारी पॉजिटिव पाये गये हैं। फिलहाल यह स्थिति अच्छी नहीं है। दूसरे देशों के हालात को देखते हुये लखनऊ के लोगों को सजग होने की जरूरत है। बाहर से आये मरीजों के नमूने लेकर जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है।

मेदांता के 11 कर्मचारियों के पॉजिटिव आने से अस्पताल में हड़कंप मच गया। कर्मचारियों के साथ मरीज व उनके तीमारदारों में डर समाया है। मेदांता अस्पताल के मेडिकल निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने बताया कि अस्पताल के सुरक्षाकर्मी, सफाई कर्मी समेत 150 से ज्यादा की जांच करायी गई। जिसमें 11 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से किसी को कोई लक्षण नहीं है। सभी होम आइसोलेशन में हैं। इन संक्रमितों के संपर्क में आये कर्मचारियों व डॉक्टर के साथ मरीजों के नमूने लेकर जांच करायी जा रही है।

सीएमओ कार्यालय के प्रवक्ता योगेश रघुवंशी ने बताया कि रविवार को 79 लोगों में संक्रमण मिला है। सीएचसी चिनहट इलाके में सबसे अधिक 23 मरीज मिले हैं। यह मरीज चिनहट, गोमती नगर व आसपास के इलाकों के हैं। इसके अलावा इंदिरा नगर इलाके में पांच लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। विभिन्न इलाकों में बाहर से आने वाले लोग संक्रमित मिले हंै। संक्रमितों की कांटेक्ट ट्रेसिंग का काम किया जा रहा है। 

चिनहट इलाके के तिवारीगंज में एक संक्रमित के संपर्क में आये परिवार व अन्य सदस्यों समेत सर्वाधिक आठ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इसके अलावा जानकीपुरम, हुसैनाबाद, आलमबाग और गोमती नगर में एक ही परिवार के दो-दो लोग संक्रमितों की पुष्टि हुई है। 



वाराणसी में रविवार को कोरोना के 14 नए मामले सामने आए हैं। ट्रॉमा सेंटर के 2 डॉक्टर भी शामिल है। जिन इलाकों में कोरोना के मामले सामने आए हैं। उनमें पटना बिहार (रविदास गेट), पहाड़ी गेट, नानक नगर कॉलोनी (छित्तूपुर), चेतन नगर कॉलोनी (लहरतारा), नाटी इमली, नीची बाग, अस्सी घाट शामिल है। 


Post a Comment

0 Comments